Friday, June 13, 2008

कुत्ते हैं लाल कामरेड

वैसे तो राजनीती मेसभी दोगले हैं , लेकिन सबसे अधिक ये साले लाल झंडे वाले कामरेड हैं। साले जो काम ख़ुद करते हैं उसे विकाश के liye ज़रूरी कहते हैं लेकिन अगर कोई दूसरा करे तो साले गांड उठा उठा हल्ला मचाते हैं। ऊपर से ख़ुद को देश का सबसे अधिक हितैसी मानते हैं। पेट्रो उत्पादों की कीमत बढ़ने पर साले इतना हल्ला मचने लगे जैसे लगा की इन्हे पहले कुछ पता ही नही था लेकिन इन सालो को गद्दी का इतना मोह है की उससे दूरी बर्दाश्ता नही होती। साले केन्द्र सरकार को पहले दिन से ही डरते धमकाते रहे की बात नही मानी to समर्थान वापस ले लेंगे, लेकिन सालो ने पाँच साल पूरे कर ही दिए। इतना होने के बावजूद भी अब अगर देश की जनता इन कुत्तो को वोट देती है तो ...

8 comments:

MANISH PANDEY GORAKHPUR said...

BILKUL SAHI HAI PAR JIS TARAH SE VIDISHA NE APNE VIRODH ME JINSABDO KA PARYOG KIYA HAI US TARAH KE SABDO KA PARYOG KARNA ANUCHIT HAI

rajeev said...

abe gandu chaar line hindi to theek theek likh nahi pate ho chale ho maiyya chudane. chadhhi bhi gerua pehante ho kya. theek se pehna karo gand dikhti hai. bandar jaisi

रचना गौड़ ’भारती’ said...

आज़ादी की 62वीं सालगिरह की हार्दिक शुभकामनाएं। इस सुअवसर पर मेरे ब्लोग की प्रथम वर्षगांठ है। आप लोगों के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष मिले सहयोग एवं प्रोत्साहन के लिए मैं आपकी आभारी हूं। प्रथम वर्षगांठ पर मेरे ब्लोग पर पधार मुझे कृतार्थ करें। शुभ कामनाओं के साथ-
रचना गौड़ ‘भारती’

kumar gyanendra said...

bahut khoob

anand said...

I read the comment on commrade or activity of left party.Lagta hai Ms.Rachna jee apne communism thik se padha nahi hai.Ek bar padh lengi to choti nahi ho jayenge. Dog kahna to bilkul bhi achha nahi.Jitna sacrifice commrades ne dsesh ke liye kiya hai utna kise mai ke Lal ne nahi kiya hai.History nahi padhi to padh lijye tab blog par comments kariye.

A.R.Tewari,Noida,9910692699

anand said...

I read the comment on commrade or activity of left party.Lagta hai Ms.Rachna jee apne communism thik se padha nahi hai.Ek bar padh lengi to choti nahi ho jayenge. Dog kahna to bilkul bhi achha nahi.Jitna sacrifice commrades ne dsesh ke liye kiya hai utna kise mai ke Lal ne nahi kiya hai.History nahi padhi to padh lijye tab blog par comments kariye.

hary said...

mujhe lagta hai tumhare pas imag hai hi nahi ya fir tum apne parivarik sanskaro ko pradarshit kar rahe ho .jab likhna nahi aata to bloging mat kia karo . mujhe malum hai ki isko padne ke bad tum isko delete kar doge . agar sach ka samna karne ki himmat hai to comment dusro ko padne ki himmat dena

Sushil Gangwar said...

सभी हिंदी ब्लोग्गेर्स अपने ब्लॉग को प्रेसवार्ता.कॉम से जोड़े . प्रेसवार्ता.कॉम एक ऐसा मंच है जहा सारे पत्रकार , लेखक अपनी लेखनी पर धार लगा सकते है . इसलिए सभी लोगो से निवेदन है आप अपना प्रोफाइल प्रेसवार्ता .कॉम पर बनाये . www.pressvarta.com